निर्देशः सबसे उपयुक्त विकल्प का चयन करके निम्न सवालों के जवाब दीजिए। ग

| निर्देशः सबसे उपयुक्त विकल्प का चयन करके निम्न सवालों के जवाब दीजिए।
गौतम बुद्ध के प्रवचन की भाषा थी

A. हिन्दी

B. भोजपुरी

C. मगध

D. पाली

Right Answer is:

SOLUTION

एक बौद्ध धर्म वैधानिक भाषा के रूप में पाली का प्रयोग प्रारंभ हुआ क्योंकि बुद्ध ने अपने उपदेशों के लिए माध्‍यम के रूप में एक सीखी हुई भाषा, संस्कृत के उपयोग का विरोध किया और अपने अनुयायियों को स्थानीय भाषा बोलने के लिए प्रोत्साहित किया। उस समय के दौरान, उनके दिए गए संदेशों का भारत से सिलोन तक प्रसार हुआ (तीसरी शताब्दी ईसा पूर्व), जहां उन्हें स्‍थानीय भाषा में मिश्रित करने के बजाय एक साहित्‍यिक भाषा पाली (एक शताब्दी ईसा पूर्व) में लिखा गया था। पाली अंततः एक सम्‍मानित, मानक और अंतर्राष्‍ट्रीय बोली बन गई। भाषा और तिपिटक (संस्कृत: त्रिपिटक) नाम से प्रसिद्ध थेरावदा ग्रंथ संग्रह, म्यांमार (बर्मा), थाईलैंड, कंबोडिया, लाओस और वियतनाम में अपनाया गया। पाली एक साहित्यिक भाषा के रूप में 14वीं शताब्दी में भारत की मुख्य भूमि में समाप्‍त हो गई लेकिन 18वीं तक कहीं-कहीं इसका प्रयोग होता रहा।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *